120+ Shocking Facts About Shark In Hindi

Facts About Shark in Hindi - दोस्तों आज हम आपको इस पोस्ट में शार्क (Shark) के बारे में जानकारी देंगे। हाँगर या शार्क एक समुद्री जल में रहने वाला प्राणी है। इसका शरीर बहुत लम्बा होता है। इसके शरीर में हड्डी की जगह उपास्थि (कार्टिलेज) पाई जाती है। शरीर नौकाकार होता है। इसका निचला जबड़ा ऊपरी जबड़े से छोटा होता है। इसका मुँह सामने न होकर नीचे की ओर होता है जिसमें तेज दाँत होते हैं। यह एक माँसाहारी प्राणी है। तो चलिए अब हम आपको शार्क मछली के बारे में रोचक तथ्य (Facts About Shark Fish In Hindi) बताते है।

120 Shocking Facts About Shark In Hindi

शार्क से जुड़े चौंका देने वाले तथ्य - Shark Facts in Hindi

  • शार्क का फिन (Fin) काट देने के बाद भी वह जिंदा रह सकती है। लेकिन तैर में असमर्थ हो जाने के कारण वह समुद्र में डूब जाती है और तलहटी में धीरे-धीरे मरती है।
  • वर्तमान में दुनिया में सबसे बड़ा प्राणी व्हेल शार्क (Whale Shark) माना जाता है। लेकिन शार्क की सबसे दुर्लभ प्रजाति मेगालोडन शार्क (Megalodon Shark) आकार में व्हेल शार्क से भी बड़ी थी। इसकी लंबाई 50 फीट थी। ये व्हेल शार्क को भी खा जाती थी। ये 16 मिलियन वर्षों से विलुप्त है। अब तक इसके 100 से भी कम अवशेष प्राप्त हुए है।
  • दुनिया की सभी शार्कों में सबसे बड़ा दिमाग Sperm Whale Shark का होता है। इसके दिमाग (Brain) का वजन 18 Pounds होता है।
  • शार्क पैदाईशी ही मांसाहारी होती है। दुनिया की सबसे खतरनाक मानी जाने वाली टाइगर शार्क (Tiger Shark) जब अंडे देती है, तो अंडे से निकला सबसे पहला बेबी शार्क अन्य अण्डों को ही खाने लगता है।
  • शार्क बिना आराम किये लगातार कई दिनों तक तैर सकती है। ग्रेट वाइट शार्क (Great White Shark) 2500 मील की दूरी बिना खाए और आराम किये तय कर सकती है।
  • विभिन्न प्रजातियों की शार्क का भोजन भिन्न-भिन्न होता है। कुछ समुद्री पौधे खाती है, तो कुछ समुद्री जीव।
  • एक बार एक शार्क के पेट से छोटी मिसाइल, लोहे की कीलें, प्लास्टिक की बोतल आदि मिली है। इसका अर्थ ये है कि शार्क ये सभी चीज़ों आसानी से खा सकती है।
  • मछली के विपरीत, शार्क केवल आगे की तरफ तैर सकती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि उनके पंख कठोर होते है और मांसपेशियों द्वारा नियंत्रित नहीं किया जा सकता है।
  • एक शार्क में अधिकतम सात पंक्तियों में 40 से 45 दांत होते है। शार्क नियमित रूप से दांत खो देते है और अपने जीवनकाल में 30,000 तक दांत उत्पान कर सकते है।
  • शार्क पृथ्वी के महासागरों में 450 मिलियन वर्षों से रह रहे है।
  • शार्क की उत्कृष्ट सुनने की शक्ति होती है। वे 500 मीटर दूर पानी में कूदती हुई मछली की आवाज़ सुन सकते है।
  • अगर एक शार्क को एक बड़े स्विमिंग पूल में डाल दिया जाता है, तो वह पानी में खून की एक-एक बूंद को सूँघ सकती थी।
  • हालाँकि शार्क की अधिकांश प्रजातियाँ एक मीटर से कम लंबी होती है, फिर भी कुछ प्रजातियाँ है जैसे व्हेल शार्क, जिसकी लंबाई 14 मीटर हो सकती है।
  • ग्रेट वाइट्स समुद्र में सबसे घातक शार्क है। ये शक्तिशाली शिकारी पानी के माध्यम में 30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफतार से तैर सकते है।
  • अधिकतर शार्क 100 फीट से कम गहरे समुद्र में रहती है। हालांकि शार्क के हमले संसार के सभी हिस्सों में होते है लेकिन सबसे ज्यादा उत्तरी अमेरिका के इलाको, ऑस्ट्रलिया और दक्षिणी अफ्रीका में होते है।
  • शार्क अक्सर हमले से हमे चेतावनी के संकेत देती है जैसे पीठ को सहलाना, सिर को उपर उठाना और पेक्टोरल पंख को नीचे करते हुए इशारा करना।
  • शार्क लीवर मनुष्य में विटामिन ए का प्रमुख स्त्रोत है। Basking शार्क नामक शार्क का वजन 1800 पौंड होता है जिसमे से 600 गैलन तेल निकल सकता है।
  • मशहूर फिल्म Jaw के बाद शार्क द्वारा हमलो के मामले काफी बढ़ गये थे।

शार्क के बारे में गज़ब की दिलचस्प बातें

  • अगर शार्क एक इन्सान को मारती है तो इंसान उसके बदले 20 लाख शार्को को मार देता है।
  • शार्क के शरीर में एक भी हड्डी नही होती है।
  • Grey Reef shark को gangster shark भी कहते है क्योंकि ये बहुत ही ज्यादा आक्रामक प्रवृति की शार्क है।
  • शार्क (Sharks) संसार के लगभग सभी महासागरो में पायी जाती है।
  • पुर्तगाली शार्क 12 हजार फीट की गहराई में रहती है जो दो मील गहरा होता है।
  • Laminid Group की शार्क, जिसमें great white shark, mako shark, porbeagle shark आती है, की आँखों की रेटिना (Retina) में एक खास गुण होता है। इससे वे अपनी आँखों और दिमाग को गर्म कर सकती है। इस कारण शार्क को किसी भी चीज़ का movement देखने में ज्यादा आसानी होती है।
  • गहरे पानी में रहने वाली शार्क की आँखों का रंग हल्का होता है, ताकि वे अधिक प्रकाश आकर्षित कर सके. वहीं पानी की ऊपरी सतह पर रहने वाली शार्क की आँखों का रंग गहरा होता है, ताकि उनकी आँखें अत्यधिक प्रकाश से बच सकें।
  • एक रिसर्च में पता चला है कि शार्क का गुस्सा बहुत तेज होता है। यह गुस्से और भूख में कुछ भी कर सकती है। ऐसी हालत में इसे कोई दर्द महसूस नहीं होता। भूखी शार्क आसानी से छोटी नाव के टुकड़े कर सकती है। कुछ वर्ष पूर्व एक शार्क ने गुस्से में अटलांटिक महासागर (Atlantic Ocean) में फाइबर ऑप्टिक केबल (Fiber Optic Cable) को काट लिया था, जिससे 2.5 डॉलर का नुकसान हुआ था।
  • शार्क के शिकार करने का तरीका बड़ा अनोखा होता है। ज्यादातर शार्क एक बार हमला करने के बाद इतंजार करती है। ताकि शिकार कुछ देर में मर जाये या कमज़ोर हो जाये, जिससे वे उसे आसानी से निगल सकें।
  • जब शार्क भोजन करती है तो इसे पचा नही पाती है इसलिए उल्टी के द्वारा अपशिष्ट भोजन को बाहर फेंक देती है।
  • शार्क (Sharks) का जबड़ा उसके कपाल से जुड़ा रहता है क्योंकि उसका मुंह उसके सिर के नीचे स्थित होता है।
  • Sandpaper के अविष्कार से पहले लोग शार्क की खुरदरी त्वचा shagreen से लकड़ी को स्मूथ और पॉलिश करते थे। जापानी योद्धा उनके हथियारों के हत्थों पर इसे लपेट लेते थे ताकि हथियार आसानी से ना सरके।
  • शार्क शब्काद सबसे पहले प्रयोग सन 1569 में हुआ था जबकि इससे पहले नाविक और मछुआरे इसे Sea Dog पुकारते थे।
  • शार्क के पेट में कई बार अजीबोगरीब चीज़ मिल चुकी है। जिनमे जूते, कुर्सी, घोंघो का बॉक्स और शराब की बोतले तक मिल चुकीं है।
  • शार्क और हड्डियों वाली मछलियों में एक भिन्नता यह भी है कि शार्क की पलकें (Eyelids) होती है।
  • शार्क का आकार 6 इंच से 46 फीट तक हो सकता है। अलग-अलग प्रजातियों की शार्क का आकार अलग-अलग होता है।
  • सबसे छोटी शार्क ड्वार्फ लैंटर्न शार्क (Dwarf Lantern Shark) और पिग्मी शार्क (Pygmy Shark) है, जिनका आकार महज़ 20 सेंटीमीटर (6 इंच) होता है।
  • सबसे बड़ी शार्क व्हेल शार्क (Whale Shark) है, जिसका आकार 46 फीट तक हो सकता है और वजन 28 टन तक। यह वजन लगभग 4 हाथियों के वजन के बराबर है।
  • कभी-कभी शार्क Metal वस्तुओ पर हमला कर देती है। शायद इसका कारण यह है कि मेटल से नमकीन पानी में कमजोर इलेक्ट्रिक सिग्नल आते है। जो शार्क को कंफ्यूज कर देती है।
  • शार्क (Sharks) हमलो में 90 प्रतिशत शार्क के हमले पुरुषो पर हुए है।
  • व्हेल शार्क सबसे ज्यादा बच्चो को जन्म देती है। ये एक लीटर में सौ से भी ज्यादा बच्चो को जन्म दे देती है।
  • Basking शार्क दो साल से ज्यादा समय तक गर्भवती रहती है जबकि दुसरी शार्क कुछ महीनों तक ही गर्भवती रहती है।
  • शार्क Leather से बने जूते रेगुलर leather के जूतों से चार गुना ज्यादा चलते है।
  • शार्क के बच्चे के जन्म के समय से ही पूरे दांत होते है, इस तरह वे जन्म से ही आक्रमण के लिए तैयार होते है।
  • मनुष्य केवल अपने नीचे के जबड़े हिला सकता है। लेकिन शार्क अपने ऊपर और नीचे दोनों जबड़े हिला सकती है। इसकी यह क्षमता इसे अपने दुश्मनों के लिए बेहद घातक बना देती है।
  • शार्क की वोकल कॉर्ड (Vocal Cord) नहीं होती। इस कारण ये आवाज़ नहीं निकाल सकती। इसलिए इन्हें ‘साइलेंट किलर’ (Silent Killer) भी कहा जाता है।

Facts About Shark In Hindi

  • सबसे बड़ा अंडा व्हेल शार्क का होता है। लेकिन इन अंडों में से बच्चे शार्क के पेट के भीतर ही निकल आते है। इस कारण दुनिया में शुतुरमुर्ग के अंडे को सबसे बड़ा माना जाता है। यदि व्हेल शार्क के अंडे को वैध माना जाये, तो यह आकार में शुतुर्मुग (Ostrich) के अंडे से काफ़ी बड़ा होता है। शुतुर्मुग के अंडे का आकार जहाँ 6 इंच तक का हो सकता है, वहीं व्हेल शार्क के अंडे का आकार 15 इंच तक हो सकता है।
  • शार्क के बच्चे अंडे में से ही खतरे को पहचानने की क्षमता रखते है। खतरे का आभास होने पर ये अपना मूवमेंट रोक लेते है और खतरे से बच जाते है।
  • ग्रेट वाइट शार्क (Great White Shark) शिकार के लिए पानी की सतह से 10 फीट ऊँची छलांग लगा सकती है।
  • शार्क की तैरने की रफ़्तार सामान्य तौर पर 4 से 8 किलोमीटर प्रति घंटा होती है। लेकिन कुछ प्रजातियों की शार्क 60 मील प्रति घंटा की रफ़्तार से पानी में तैर सकती है।
  • अधिकांश शार्क सोती नहीं है क्योंकि ऑक्सीजन प्राप्त करने के लिए उनके gills के ऊपर से पानी गुजरता रहना आवश्यक है। अन्यथा उनकी मृत्यु हो जाएगी। इसलिए शार्क को तैरते रहना पड़ता है।
  • शार्क में गर्भधारण काल 6 माह से लेकर 2 वर्ष तक हो सकता है। Dogfish Shark का गर्भधारण 2 वर्ष का होता है।
  • मादा शार्क एक ही समय में कई अलग-अलग नर शार्क से गर्भवती हो सकती है।
  • Nurse Shark सबसे आलसी शार्क होती है। ये बहुत ही कम गमन करती है और अन्य शार्कों की तुलना में बहुत कम खाती है। इन्हें अन्य शार्कों की तरह सांस लेने के लिए तैरना भी नहीं पड़ता है।
  • Bamboo Shark तैरती नहीं है। समुद्र पार करने के लिए वे अपने चार अलग-अलग फ़िन् का इस्तेमाल करती है।
  • Basking Shark कभी अकेले नहीं तैरती। वे जोड़ों में तैरती है। हालांकि उन्हें 100 के समूह में भी देखा जाता है।
  • Thresher Shark अपनी पूंछ द्वारा अपने शिकार पर हमला कर उसे मार डालती है।
  • हर साल अनुमानित 100 मिलियन शार्को को मारा जाता है। शार्क के दांतों से नेकलेस बनाये जाते है cartilage से खाद बनाया जाता है चमड़ी से Leather बनाया जाता है। लीवर से फेस क्रीम उअर इंधन बनता है। शार्को की सामूहिक हत्या की वजह से पर्यावरण संतुलन बिगड़ रहा है।
  • शार्क और मछली (Fish) में यह भिन्नता है कि शार्क का skeletons मछलियों की तरह हड्डियों का नहीं बल्कि cartilage और muscle का बना होता है। यह हड्डियों की तुलना में बहुत कम वजनी होते है। यही कारण है कि शार्क काफी लचीली होती है। यह लचीलापन इसके तीव्र गति से तैरने में सहायक होता है।
  • मनुष्य के पूरे जीवनकाल में दो ही बार दांत निकलते है, लेकिन शार्क के साथ ऐसा नहीं है। इनके दांत टूटते रहते है और नए दांत निकलते रहते है। यह आजीवन चलती रहती थी। पूरे जीवनकाल में शार्क के लगभग 30,000 दांत निकलते है।
  • शार्क के दांतों की एक अनोखी बात यह भी है कि टूटने के 1 हफ्ते बाद ही ये दोबारा निकल आते है। नए दांत पुराने दांतों से आकार में अधिक बड़े होते है। इसलिए बड़ी शार्क के दांत अधिक भयावह नज़र आते है।

Information About Shark In Hindi

  • एक Bull शार्क मीठे और नमकीन पानी दोनों प्रकार के पानी में रह सकती है। क्योंकि ये नमक और दुसरे तत्वों को अपने खून में रेगुलेट करती रहती है। बुल शार्क ने न्यू जर्सी में 1916 हमले किये हुए है।
  • सबसे ज्यादा जीने वाली शार्क spiny और piked dogfish है जिनकी उम्र 70 साल तक हो सकती है और कुछ तो 100 साल तक जी जाती है।
  • मादा शार्क नर शार्क की तुलना में आकार में ज्यादा बड़ी होती है। बड़े आकार का कारण यह है कि मादा शार्क को अपने गर्भ में बेबी शार्क को रखना होता है।
  • सबसे बड़ी शार्क यानी व्हेल शार्क (Whale Shark) 100 से 150 वर्ष तक जीवित रहती है। सबसे छोटी शार्क 20 से 30 वर्ष तक जीवित रहती है।
  • Moses Sole एक ऐसी दुर्लभ मछली है, जिसे शार्क नहीं खा पाती। यह मछली अपने शरीर से कुछ ऐसे केमिकल छोड़ती है, जिससे शार्क को दूर भागना पड़ता है। वैज्ञानिकों के द्वारा इस केमिकल पर शोध किया जा रहा है। ताकि इस केमिकल का उपयोग कर मानव शार्क के हमले से बच सके।
  • वैसे शार्क महासागरों में रहती है। लेकिन कुछ ऐसी भी शार्क है, जो ताज़े पानी की झीलों और नदियों में भी रहती है। bull sharks उष्णकटिबंधीय नदियों में पाई जाती है और खारे और ताजे पानी दोनों में रह सकती है। River sharks दक्षिण एशिया (South Asia), न्यू गिनी (New Guinea) और ऑस्ट्रेलिया (Australia) के क्षेत्रों में नदियों में पाई जाती है।
  • शार्क के पास किसी भी पशु प्रजाति की सबसे मोटी स्किन होती है। कुछ शार्क की स्किन 6 इंच मोटी होती है।
  • पहली शार्क आज से लगभग 4 करोड़ साल पहले डायनोसोर युग से भी पूर्व रही होगी और समय के साथ बदलती गयी।
  • हाल ही में वैज्ञानिकों ने शार्क (Sharks) की एक नई प्रजाति को खोजा जिसकी लम्बाई मात्र साढ़े पांच इंच है। Aptly नामक इस अमेरिकन पॉकेट शार्क ना केवल बौनी है बल्कि ये अँधेरे में भी चमकती है।
  • शार्क (Sharks) को बहुत कम कैंसर की सम्भावना होती है। इसलिए वैज्ञानिक कैंसर के इलाज की खोज के लिए शार्को का गहन अध्ययन कर रहे है।
  • शार्क की 10% ऐसी प्रजातियाँ है, जो अँधेरे में चमकती है। इसे Ninja Lanternshark कहा जाता है। इनमें प्रकाश छोड़ने वाला एक अंग होता है, जिसे फोटोस्फेयर (Photosphere) कहते है।
  • ग्रेट वाइट शार्क (Great White Shark) एक वर्ष में औसतन 11 टन खाना खा लेती है। लेकिन भोजन न मिलने की स्थिति में भी यह 3 महीने तक बिना खाए जीवित रह सकती है।
  • अधिकांश मादा शार्क की प्रजनन के समय भूख कम हो जाती है। ऐसा इसलिए होता है, ताकि वे भूख के कारण अपने ही बच्चों को ना खा जायें।
  • शार्क की अन्य प्रजातियों के विपरीत, ग्रेट वाइट्स का रक्त गर्म होता है। ग्रेट वाइट्स शार्क के शरीर का तापमान स्थिर नहीं रहता, लेकिन इसे तापमान को नियंत्रित करने में सक्षम होने के लिए बहुत अधिक मांस खाने की आवश्यकता होती है।
  • अब तक का सबसे बड़ा शार्क विशाल मेगालोडन था जिसकी लंबाई 50 फीट थी। हालांकि ये भयानक शार्क 16 मिलियन वर्षों से विलुप्त है।

Facts About Shark For Kids In Hindi

  • कुछ वैज्ञानिको का सुझाव रहता है कि मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को समुद्र के पानी से दूर रहना चाहिए क्योंकि शार्क रक्त की महक से खींची चली आती है।
  • शार्क (Sharks) की 400 से अधिक प्रजातियाँ है जिन्हें आठ गग्रुप में विभक्त किया गया है। इनमे से केवल 30 प्रजातिया मनुष्य पर हमला करने के लिए जानी जाती है जिनमे से ग्रेट वाइट , टाइगर, बुल, माको और हैमरड शार्क प्रमुख है। अधिकतर शार्क किसी को नुक्सान नहीं पहुंचती है।
  • करीब दो तिहाई शार्क हमले छ: फीट कम गहराई वाले पानी में होते है।
  • शार्क के हमलो से ज्यादा मौते मनुष्य मधुमक्खी के काटने और आकाशीय बिजली गिरने से होते है।
  • Hammerhead sharks का सिर जन्म के समय बहुत कोमल होता है ताकि माँ के Birth Canal में फंसे नही।
  • अब तक कि सबसे बड़ी मछली Great White shark को रॉड और रील से पकड़ा गया था। इसका वजन 2,664 पौंड और लम्बाई 17 फीट थी।
  • 2012 में Journel Of Structural Biology में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार शार्क (Tiger Shark & Makos Shark) के दांत Fluoroapatites नामक केमिकल से निर्मित होते है। इस केमिकल के कारण इनके दांतों में कभी कैविटी नहीं होती, न ही ये ख़राब होते है।
  • शार्क जब अपने शिकार को काटती है, तो उसके शरीर में बहुत अंदर तक कठोरता से अपने दांत गड़ा देती है। इसलिए उसके बहुत से दांत टूटकर शिकार के शरीर में ही रह जाते है। शार्क अपने जीवनकाल में 4000 दांत इसी तरह निकाल देती है।
  • मादा शार्क की चमड़ी नर शार्क की चमड़ी से ज्यादा मोटी होती है। क्योंकि संभोग के समय नर शार्क मादा शार्क को काटते रहते है।
  • शार्क साफ़ पानी में इंसानों से 10 गुना बेहतर देख सकती है।
  • वैज्ञानिकों के अनुसार शार्क colorblind होती है।
  • शार्क के कान सिर के बाहर न होकर सिर के अंदर स्थित होते है।
  • शार्क के नाक, आँख और मुंह के पास छोटे काले धब्बे होते है। ये धब्बे एक विशेष electroreceptor organs है, जो शार्क को समुद्र के भीतर विद्युत चुंबकीय क्षेत्र (electromagnetic fields) और तापमान परिवर्तन का अनुमान लगाने में मदद करते है।
  • शार्क की याददाश्त बहुत अच्छी होती है। ये अपने बच्चों को उसी स्थान पर जन्म देती है, जहाँ इसका ख़ुद का जन्म हुआ होता है।
  • सफ़ेद शार्क एक बार में 1 या 2 बच्चों को जन्म देती है। इसके बच्चे को पप्स (Pups) कहते है। जन्म के समय पप्स की लंबाई 5 फीट होती है।
  • Blue Shark एक बार में 135 बच्चों को जन्म दे सकती है।
  • ग्रीन लैंड (Green Land) में एक ऐसी शार्क पाई जाती है, जो पोलर बेयर (Polar Bear) को भी खा सकती है। यह शार्क 200 वर्ष तक जीवित रह सकती है।
  • Great white shark का bite force लगभग 4000 psi (pounds per square inch) होता है, जो बाघ (Tiger) या शेर (Lion) के bite force 1000 psi से 4 गुना अधिक है। इंसानों का bite force 150-200 psi होता है।
  • शार्क की एक नई प्रजाति शाई शार्क (Shai Shark) ख़तरनाक नहीं होती। ये अपना अधिकांश समय आराम से गुजारती है।
  • शार्क को मानव का स्वाद पसंद नहीं होता है। वे मानव को काटती है, इतने में ही मानव मौत हो जाती है। लेकिन शार्क उसे खाती नहीं है, बल्कि यूं ही छोड़कर चली जाती है।
दोस्तों उम्मीद है कि आपको हमारी यह पोस्ट Shocking Facts About Shark In Hindi पोस्ट पसंद आयी होगी। अगर आपको हमरी यह पोस्ट पसंद आयी है तो आप इससे अपने Friends के साथ शेयर जरूर करे और हमें Subscribe कर ले। ता जो आपको हमारी Latest पोस्ट के Updates मिलते रहे। दोस्तों अगर आपको हमारी यह साइट FactsCrush.Com पसंद आयी है तो आप इसे bookmark भी कर ले।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ