130+ Shocking Facts About Horse in Hindi You Didn't Know

Horse Facts in Hindi - दोस्तों आज हम घोड़े के बारे में रोचक तथ्य जानेंगे। दोस्तों घोड़े (Horse) को हर कोई पसंद करता। घोड़ों के साथ इन्सानों का रिश्ता काफ़ी लंबे समय से बना हुआ है। मनुष्यों ने 4000 ईसा पूर्व के आसपास घोड़ों को पालतू बनाना शुरू कर दिया। घोड़ा या अश्व ऐक़्वस फ़ेरस (Equus ferus) की दो अविलुप्त उपप्रजातियों में से एक है। वह एक विषम-उंगली खुरदार स्तनधारी हैं, जो अश्ववंश (ऐक़्वडी) कुल से ताल्लुक रखता है। घोड़े का पिछले 45 से 55 मिलियन वर्षों में एक छोटे बहु-उंगली जीव, ऐओहिप्पस (Eohippus) से आज के विशाल, एकल-उंगली जानवर में क्रम-विकास हुआ है। तो चलिए अब हम आपको घोड़े से जुड़े कुछ रोचक तथ्य (Facts About Horse in Hindi) बताते है।

130 Shocking Facts About Horse in Hindi You Didn't Know

घोड़ों से जुड़े रोचक तथ्य - Horse Facts in Hindi

  • घोड़े का वजन 1000 किलो तक हो सकता है।
  • दोस्तों सामान्य घोड़े का दिमाग का वजन एक इंसान के बच्चे के दिमाग इतना होता है
  • पिछले कई सालों में घोड़ो को अपराधों की सज़ा भी मिल चुकी है।
  • दोस्तों अगर घोड़े के कान का पिछला हिस्सा ठंडा लग रहा है तो समझ लीजिये की उन्हें ठंड लग रहा है।
  • घोड़े भी अपना मूंड बताने के लिए कई तरह के चेहरे बनाते है।
  • दुनिया भर में घोड़ों की 300 से भी ज्यादा विभिन्न प्रजातियाँ है।
  • कई देशों में घोड़े को शौर्य का प्रतीक माना जाता है। चीन (China) भी उनमें से एक देश है।
  • 1788 के पूर्व ऑस्ट्रेलिया में घोड़े नहीं थे। उपनिवेशियों के द्वारा यहाँ घोड़े लाये गए।
  • फ्रांस (France) सहित कुछ देशों में घोड़े का मांस खिलाना बहुत बड़ी आवभगत समझी जाती है।
  • अकाल-टेक घोड़े (Akhal-Teke horse) सुंदर, चमकदार बालों के कारण “सुपरमॉडल” घोड़े माने जाते है। लेकिन दुर्भाग्य से सोवियत संघ में मांस के लिए मारे जाने के कारण यह नस्ल विलुप्ति के कगार पर पहुँच गई थी।
  • प्रथम विश्व युद्ध में लगभग 8 करोड़ घोड़े मारे गये थे। जो बच गए थे, उन्हें अन्य कार्यों के लिए अनफिट घोषित कर बेल्जियम के एक कसाईघर भेज दिया गया था।
  • फीट और इंच में नापने के स्थान पर घोड़ों को नापने की इकाई “hands” है। 1 hand में 4 inch होते है।
  • घोड़ों की ऊँचाई नापने के लिए जमीन से उसके स्कंध भाग तक की लंबाई नापनी होगी. सिर तक की लंबाई नापने पर वह अलग-अलग समय में अलग-अलग होगी.
  • सबसे छोटा घोड़ा New Hampshire का Einstein नामक घोड़ा था, जिसकी ऊँचाई 14 इंच थी।
  • दुनिया का सबसे ऊँचा घोडा इंग्लैंड का Sampson नामक घोड़ा था, जिसका जन्म 1846 में हुआ था। यह सामान्य घोड़ों की तुलना में 7 hands ऊँचा था। खड़े होने पर उसकी ऊँचाई 21.2 hands थी।
  • जंगली घोड़े तीन से लेकर 20 के झुण्ड में रहते है जिसमे से परिपक्व नर घोडा दल को प्रतिनिधित्व करता है और बाकी उसका अनुसरण करते है।
  • घोड़े (Horse) के चमड़े से बहुत सी चीजे बनाई जाती है। हड्डियों से खिलौने एवं खुरो से सरेस बनाई जाती है।
  • कभी कभी यह बहुत हानि भी पहुचाता है जैसे यह कभी स्वामी से रूठ जाता है तो उसे पीठ से नीचे भी गिरा देता है।
  • भारत में घोड़े (Horse) का उपयोग प्राचीनकाल से ही होता रहा है। अश्म्वेघ यज्ञ का वर्णन पुराने शास्त्रों में आया है। अश्व चिकित्साल्य तो प्राचीन काल से चले आ रहे है।
  • घोड़े 40 से 48 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकते है। लेकिन दुनिया के सबसे तेज़ घोड़े 70 से 76 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकते है।
  • दोस्तों दुनिया भर में करीब 6 करोड़ घोड़े है।

घोड़े के बारे में रोचक तथ्य और जानकारी - Facts About Horse In Hindi

  • दोस्तों मेल घोड़े को अंग्रेजी में Stallion और फीमेल घोड़े को Mare कहते है।
  • दोस्तों जब घोड़े दांत निकाल कर हंसते है दरअसल उस समय वो हंस नहीं रहे होते बल्कि कुछ सुनने की कोशिश कर रहे होते है।
  • घोड़े के सुनने की क्षमता 14 Hz से 25 KHz होती है। मनुष्यों की सुनने की क्षमता 20 Hz से 20 KHz होती है।
  • दूसरे स्तनधारी जीवों की तरह घोड़ा उल्टी (Vomit) नहीं कर सकता। ये डकार भी नहीं मार सकता। यही कारण है कि अधिकांश घोड़ों की मौत पेट दर्द के कारण होती है।
  • इंग्लैंड का ओल्ड बिली (Old Billy) नाम का घोड़ा 62 वर्ष तक जीवित रहा था। इसका जन्म 1760 में हुआ था और मृत्यु 1822 में हुई थी।
  • क्या आप जानते हो कि घोड़ा कभी उल्टी नहीं कर सकता।
  • घोड़े अंधेरे में इंसानों से ज्यादा साफ़ देख सकते है।
  • घोड़ों को मीठा भोजन पसंद होता है वो खट्टा और कड़वा खान नहीं खाते है।
  • घोड़ों के मुंह में 1 दिन में 10 गैलन राड़ बनती है।
  • दोस्तों अगर नर घोड़ो को किसी खतरे का संकेत होता है। तो वो मादा घोड़ो को चारो और से घेर लेते है और दुशमन का सामना भी करते है।
  • घोड़ों के खुर को पूरी तरह विकसित होने में 9 से 12 माह का समय लगता है।
  • घोड़ों का निकटतम रिश्तेदार गाय, सुअर या बकरी नहीं है, बल्कि गैंडा (rhinoceros) है।
  • घोड़ों की ये पांच इंद्रियां (senses) काफ़ी विकसित होती है : स्वाद, स्पर्श, श्रवण, गंध और दृष्टि। उनकी बहुत गूढ़ छठी इंद्रिय (sixth sense) भी होती है, जो मनुष्यों में बहुत कम देखने को मिलती है।
  • घरेलू घोड़े मानवीय भावनाओं जैसे उदासी या घबराहट आदि को समझ सकते है।
  • घोड़ों के समूह में सभी घोड़े एक साथ नहीं सोते। उनमें से एक हमेशा रखवाली के लिए जागता रहता है।
  • घोड़े शाकाहारी होते है। ये जुगाली नहीं करता, बल्कि एक ही समय में चबाकर अपना आहार निगल लेते है। जबकि गाय, भैंस, ऊँट जैसे शाकाहारी जानवर जुगाली करते है।
  • घोड़े के खुर गायों के खुरों के समान फटे हुए नहीं होते है। सुरक्षा की दृष्टि से इनके खुरों में नाल लगाईं जाती है।
  • घोड़ों का appendix पत्तियों को पचाने का कार्य करता है। वैज्ञानिकों का यह मानना है कि मानव appendix का भी इसी तरह का कार्य हुआ करता होगा।
  • मादा घोड़ी का गर्भकाल 11 माह का होता है।

Facts About Horse In Hindi

  • घोड़े के कान जिस दिशा में मुड़े होते है, घोड़ा उस कान के तरफ़ की आँख से उसी दिशा में देख रहा होता है। यदि कान अलग-अलग दिशाओं को इंगित कर रहे है, तो घोड़ा एक ही समय में दो अलग-अलग चीजों को देख रहा होता है।
  • एक सामान्य घोड़े के दिल (Heart) का वजन लगभग 9 या 10 पाउंड होता है।
  • घोड़े में मनुष्यों की तुलना में गंध पहचानने और सुनने की बेहतर क्षमता होती है।
  • जन्म के बाद घोड़े का पहला वर्ष मनुष्य के 12 वर्ष के बराबर होता है। उसका दूसरा वर्ष मनुष्य के 7 वर्ष, तीसरा मनुष्य के 4 वर्ष के बराबर होता है। उसके बाद के उसके वर्ष मनुष्य के 2.5 वर्ष के बराबर होते है।
  • घोड़े के बच्चे के दूध के दांत ढाई वर्ष की अवस्था में झड़ जाते है।
  • घोड़े की लंबाई उनके घुटनों के ऊपर ही बढ़ती है।
  • संवाद करने के लिए घोड़े विभिन्न प्रकार की आवाज़ें निकालते है। जब घोड़े एक दूसरे से मिलते है या बिछड़ते है, तो हिनहिनाते है। स्टालियन (वयस्क नर घोड़े) संभोग के समय जोर से गर्जना करते है। संभावित खतरे के बारे में दूसरों को सचेत करने के लिए घोड़े खर्राटों की तरह आवाज़ निकालते है।
  • अगर घोड़े के कान पीछे की ओर मुड़े हों, तो इसका मतलब है कि वह आक्रामक मूड में है।
  • घोड़ों से डर को इक्विनोफोबिया (Equinophobia) कहा जाता है।
  • कोई भी घोड़ा जो 14.2 हाथ से छोटा होता है, उसे टट्टू (Pony) माना जाता है।
  • घोड़ों पर लिखी गई सबसे पहली किताब “शालिहोत्र” है। इसके लेखक शालिहोत्र ऋषि है, जिन्होंने महाभारत काल से भी पहले इस किताब को लिखा था।
  • सेना में भर्ती किये जाने वाले घोड़ों की उम्र 4 से 6 वर्ष तक की होती है। 20 वर्ष की उम्र तक ये सेवा में रहते है। उसके बाद ये सेना के अन्य सिपाहियों की तरह सेवानिर्वित्त कर दिए जाते है।
  • ब्रिटिश सेना में टैकों के बजाय घोड़े अधिक है।
  • ओलंपिक (Olympic) में भाग लेने वाले घोड़ों को बिज़नेस क्लास में हवाई सफ़र की सुविधा मिलती है। यहाँ तक कि उनके अपने पासपोर्ट (Passport) भी होते है।
  • घोड़े अपने कानो ,आँखों और नथुनों की मदद से अपने भाव व्यक्त करते है। वो चहरे के भावो से भी अपनी भावना प्रकट करते है।
  • घोड़ों में उच्चारण का विशेष महत्व है जैसे जब घोड़े आपस में मिलते तो अलग उच्चारण करते है तो खतरे पर अलग।
  • जंगली घोड़े दक्षिणी अमेरिका में पाए जाते है लोग उनके पकडकर शिक्षित करते है। शिक्षित होकर ये इतना सध जाते है कि अनेक दुसाध्य और विस्मयजनक कार्य करने लगते है।
  • घोड़े के दांत मस्तिष्क की तुलना में उसके सिर में अधिक स्थान घेरते है।

Facts About Horse For Kids In Hindi

  • घोड़े के खुर उसी प्रोटीन से निर्मित होते है, जिससे मानव बाल और नाखून निर्मित होते है।
  • वयस्क घोड़े के मस्तिष्क का वजन 22 औंस होता है, जो मानव मस्तिष्क (Human Brain) के वजन का लगभग आधा है।
  • जमीन पर रहने वाले स्तनपायी (mammal) जीवों में घोड़ों की आँखें सबसे बड़ी होती है।
  • किताबों में घोड़े के संबंध में कई अजीबोगारीब कानून है। मसलन, संयुक्त राज्य भर (USA) में कई शहरों में नवविवाहित पुरुषों को घोड़ों की अकेले सवारी करने की अनुमति तब तक नहीं दी जाती थी, जब तक उनकी शादी को 12 महीने से अधिक का समय नहीं हुआ रहता था।
  • चीनी राशि चक्र में “horse” भी एक राशि होती है। जो व्यक्ति इस राशिचक्र में जन्म लेता है, उसमें घोड़े की विशेषतायें होना माना जाता है। जैसे वह बुद्धिमान, स्वतंत्र विचार और खुले दिल वाला होता है।
  • घोड़े (Horse) अपने जन्म के कुछ घंटो बाद ही दौड़ने लगते है।
  • द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान नाजी जर्मनी और सोवियत संघ ने 6 मिलियन से अधिक घोड़ों का उपयोग किया था। उस दौरान लाखों घोड़े मारे गये थे।
  • 1923 में घोड़ों की रेस के दौरान ‘फ्रैंक हेयास’ नामक घुड़सवार की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई। लेकिन वे जिस घोड़े पर सवार थे, वह रुका नहीं। वह दौड़ता गया और उसने रेस जीत ली। इस प्रकार ‘फ्रैंक हेयास’ विश्व के एकमात्र ऐसे घुड़सवार बन गए, जिन्होंने मृत्यु के उपरांत रेस जीती थी।
  • घोड़े की आंखें उनके सर के दाएं तरफ और बाएं तरफ होती है। इसलिए घोड़े एक ही बार में 360 डिग्री तक देख सकते है।
  • घोड़े का बच्चा पैदा होने के कुछ समय बाद ही चलना शुरू कर देता है।
  • दोस्तों घोड़े कभी मांस नहीं खाते है। क्योंकि ये शाकाहारी होते है और ये घास खाना पसंद करते है।
  • जमीन पर रहने वाले सभी जीवो में घोड़े की आंखें सबसे बड़ी होती है।
  • घोड़े खड़े होकर या लेटर दोनों तरीके से सो सकते है।
  • घोड़े का जबड़ा उनके दिमाग से भी बड़ा होता है।
  • दोस्तों नर घोड़े के 40 दांत जबकि मादा घोड़े के केवल 36 दांत होते है।
  • दोस्तों आमतौर घोड़े करीब 25 से 30 साल तक जीवित रहते है।
  • अरबी घोड़े (Arabian Horse) को सबसे अच्छी नस्ल का घोड़ा माना जाता है। यह न केवल देखने में सुंदर होता है, बल्कि इसकी कंकाल संरचना (skeletal structure) अन्य घोड़ों से भिन्न होती है। इसकी पसलियाँ (ribs) अन्य घोड़ों की तुलना में व्यापक, मजबूत और गहरी होती है। इनमें lumbar bones और tail vertebrae की संख्या भी कम होती है।
  • 17 वीं शताब्दी से घोड़ों का इस्तेमाल पुलिस फ़ोर्स में किया जा रहा है। हालांकि 20 वीं सदी के प्रारंभ में ऑटोमोबाइल आ जाने के बाद से घोड़ों पहले की तरह बड़ी सख्या में पुलिस फ़ोर्स में इस्तेमाल नहीं किये जाते।

Information About Horse In Hindi

  • घोड़े (Horse) सर्कसो में ऐसा खेल करते है कि इनको देखकर बुद्धि चकरा जाती है। इनकी स्फूर्ति एवं निपुणता देखते ही बनती है।
  • विश्व में घोड़ों (Horse) की अनुमानित संख्या 58 मिलियन होगी जिसमे से अधिकतर मनुष्यों की निगरानी में रहते है।
  • भारत में विवाह के समय वर को घोडी पर बिठाकर वधु के घर तक ले जाने का प्राचीन रिवाज है इसलिए शहरों में आज भी घोड़े विवाह अवसरों पर देखने को मिल जाते है।
  • पानी के उपर सबसे लम्बी कूद का रिकॉर्ड 27 फीट है यह कारनामा उस घोड़े ने 25 अप्रैल 1975 में साउथ अफ्रीका में किया था।
  • घोड़े सिर्फ नाक से सांस ले सकते है। इंसानों की तरह मूँह से नहीं।
  • दोस्तों आज से करीब 6 करोड़ साल पहले घोड़ो का कद सिर्फ 14 इंच हुआ करता था और वजन करीब 5 किलो तक होता था।
  • घोड़े इंसानों की तरह फोकस नहीं कर सकता है।
  • घोड़ा गर्मियों के दिनों में 1 दिन में 100 लीटर पानी पी सकता है।
  • घोड़े (Horse) के बच्चों को भी विभिन्न नामों से पुकारा जाता है। नर बच्चे को “colt” और मादा को “fillies” कहा जाता है।
  • घोड़े के शरीर में मानव के शरीर की तुलना में 1 हड्डी (Bone) कम होती है। मानव शरीर में जहाँ 206 हड्डियाँ होती है, वहीं घोड़े में 205 हड्डियाँ होती है।
  • घोड़ा की रात में देखने की क्षमता मनुष्य की तुलना में बेहतर होती है। हालांकि, घोड़े की आँखों को इंसानों की आँखों की तुलना में प्रकाश के बाद अंधेरे को देखने में और अंधेरे के बाद प्रकाश को देखने में अधिक समय लगता है।
  • एक समय लोगों की सोच थी कि घोड़े colorblind है। लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं है। वे बैंगनी और हल्के नीले रंग को पीले और हरे रंग की अपेक्षा अधिक पहचानते है।
  • जहाँ मनुष्यों में कान की सिर्फ़ 3 मांसपेशियां होती है, वहाँ घोड़ों में कान की मांसपेशिययों की संख्या 10 होती है। इस कारण वे अपने कान को 180 डिग्री घुमा सकते है। वे अन्य घोड़ों के साथ संवाद करने के लिए अपने कानों का भी उपयोग करते है
  • घोड़े दिन भर में लगभग 10 गैलन लार (saliva) निकालते है।
  • घोड़े सामाजिक जानवर है। वे अकेले रहने पर अकेलापन महसूस करते है और किसी साथी के निधन पर शोक मनाते है।
  • मादा घोड़ी एक समय में एक ही बच्चे को जन्म देती है। हालांकि जुड़वा बच्चे होना असामान्य नहीं है।
  • अधिकतर घोड़े में बच्चे रात के समय पैदा होते है।
  • जन्म के कुछ घंटों बाद ही घोड़ा चलने और दौड़ने लगता है।
  • घोड़े के दौड़ने की अधिकतम रफ़्तार 44 किलोमीटर/घंटे या 27 मील/घंटे है। घोड़े के दौड़ने की सबसे तेज़ रफ़्तार का रिकॉर्ड 88 किलोमीटर/घंटे या 55 मील/घंटे है।
  • सर्वप्रथम घोड़े का क्लोन 2003 में इटली में बनाया गया था, जिसे Haflinger Mare नाम दिया गया था।
  • घोड़े द्वारा लगाईं गई सबसे ऊँची छलांग का रिकॉर्ड हुसो (Huaso) नामक घोड़े के नाम है, जिसने 5 फरवरी, 1949 को वीना डेल मार, चिली में 8 फीट, 1.25 इंच ऊँची छलांग लगाई थी। उसके घुड़सवार कैप्टन अल्बर्टो लारगुएबेल (Captain Alberto Larraguibel) थे।
  • मनुष्यों ने लगभग 4000 से 6000 ई.पू. घोड़ों को पालतू बनाया।
  • अमेरिकी क्वार्टर हॉर्स (American quarter horse) दुनिया में सबसे लोकप्रिय घोड़े की नस्ल है। उसके बाद अरबी घोड़ों (Arabian Horse) का स्थान है।
  • उत्तरी अमेरिका में पाये जाने वाले हर घोड़े यूरोपीय घोड़ों के वंशज है। घोड़े लगभग 8000 वर्ष पूर्व अमरीका से विलुप्त हो गए थे। ऐसे पर्याप्त जीवाश्म है, तो प्रमाणित करते है कि घोड़ों के पूर्वज यहाँ रहा करते थे।
  • Przewalski Horse एकमात्र जंगली प्रजाति का घोड़ा है, जो वर्तमान में अस्तित्व में है। इसकी जंगली आबादी मात्र मंगोलिया (Mongolia) में पाई जाती है।
  • हॉर्स बॉक्स (Horse Box) का आविष्कार ब्रिटेन (Britain) के एक व्यक्ति लार्ड जॉर्ज ने किया गया। इस आविष्कार के पीछे का कारण था कि वह अपने 6 घोड़ों को एक रेसकोर्स से दूसरे रेसकोर्स तक आसानी से पहुँचाना चाहता था।
  • घोड़े की गर्दन पर लम्बे बाल होते है और पूंछ गुच्छेदार खुरो तक लटकी होती है जबकि कई इसे छोटा भी कर देते है।
  • घोड़े की पीठ की बनावट ऐसी होती है जिससे कि सवार को बैठने में कोई असुविधा नही होती है। इसका शरीर सुडौल एवं बलिष्ट होता है।
  • सन 1867 से लेकर 1920 तक लगभग 2 करोड़ घोड़ो को मारा जा चूका है। विशेषज्ञों के अनुसार उनकी हत्या का कारण ऑटोमोबाइल है।
  • वैज्ञानिकों का मानना है कि घोड़ो के पूर्वज 5 करोड़ वर्ष पूर्व रहे होंगे। उस प्रागैतिहासिक घोड़े को Eohippus कहते थे।
  • घोड़े (Horse) एक दिन में औसतन 25 गैलन पानी पी जाते है।
  • गुलाबी रंग के घोड़ो को सनबर्न होने की सम्भावना रहती है।
दोस्तों उम्मीद है कि आपको हमारी यह पोस्ट Shocking Facts About Horse in Hindi You Didn't Know पोस्ट पसंद आयी होगी। अगर आपको हमरी यह पोस्ट पसंद आयी है तो आप इससे अपने Friends के साथ शेयर जरूर करे और हमें Subscribe कर ले। ता जो आपको हमारी Latest पोस्ट के Updates मिलते रहे। दोस्तों अगर आपको हमारी यह साइट FactsCrush.Com पसंद आयी है तो आप इसे bookmark भी कर ले।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ