Information & 190 Facts About Psychological in Hindi

Psychological Facts in Hindi - दोस्तों आज हम मनोविज्ञान (Psychology) से जुड़े कुछ रोचक तथ्यों को जानेंगे। मनोविज्ञान (Psychology) मन और आचरण का विज्ञान है। मनोविज्ञान (Psychology) में चेतन और अचेतन घटनाओं के साथ-साथ भावनाओं और विचारों का अध्ययन शामिल है। यह एक व्यापक क्षेत्र का अकादमिक अनुशासन है। मनोवैज्ञानिक भी मस्तिष्क के आकस्मिक गुणों की समझ की तलाश करते है, जो अनुशासन को तंत्रिका विज्ञान से जोड़ते है। एक सामाजिक विज्ञान के रूप में, मनोवैज्ञानिकों का उद्देश्य व्यक्तियों और समूहों के व्यवहार को समझना है। तो चलिए अब हम आपको मनोविज्ञान (Psychology) से जुड़े कुछ रोचक तथ्य बताते है!
Psychology

रोचक मनोवैज्ञानिक तथ्य - Interesting Psychological Facts in Hindi

  • जब हम खुश होते है तो हमें कम नींद आती है।
  • आप एक समय में केवल 3-4 चीजें ही याद रख सकते है।
  • जो लोग खुद से बात करते है वे स्वभाव से स्मार्ट होते है।
  • हम दिन के समय की तुलना में रात में ज्यादा आसानी से रो सकते है।
  • उच्च IQ लेवल वाले लोगों को किसी के साथ प्यार में पड़ने में कठिनाई होती है।
  • तेज बुद्धि और उच्च बुद्धि स्तर वाले लोग रात में देर से सोने की संभावना रखते है।
  • जब आप किसी प्रिय को याद करने लगते है, तो आपका मन अचानक उदास होने लगता है।
  • ऑनलाइन डेटिंग कंपनियां और ऑनलाइन शॉपिंग कंपनियां एक ही प्रकार के मनोवैज्ञानिक पैटर्न का उपयोग करती है। वस्तुओं और साझेदारों का चयन करते समय मनुष्य वही सोचता है।
  • तेज धुनों वाला और फ़ास्ट म्यूजिक सुनाने से हम शांत, तनाव-मुक्त और खुशी महसूस करते है।
  • शोधकर्ताओं ने पाया कि फ़ोबिया (Phobia) (किसी विशेष चीज या स्थिति से डर) आनुवंशिक हो सकता है। फोबिया और डर आपके माता-पिता से आपके अंदर ट्रान्सफर हो सकता है।
  • जो लोग सबसे अच्छी सलाह देते है, वे आमतौर पर सबसे ज्यादा समस्याओं से जूझ रहे होते है।
  • हर किसी को ख़ुश रखने की कोशिश करने वाले लोग अक्सर अकेलेपन के शिकार होते है।
  • किसी के साथ बहुत ज्यादा समय बिताने पर हम उसकी आदतें अपनाने लगते है।
  • जिन लोगों में अपराध-भावना (Guilt) बहुत ज्यादा होती है, वे दूसरे लोगों के विचारों और भावनाओं को ज्यादा बेहतर तरीके से समझते है।
  • तेज संगीत सुनकर आप शांत, तनावमुक्त और ख़ुश महसूस करते है।
  • प्रेम, दिमाग में होने वाली रासायनिक क्रियाओं का ही एक उदाहरण है।
  • भविष्य के बारे में आशावादी होने से भविष्य में चिंता और बीमारी की संभावना कम हो सकती है।
  • हमारी जीभ की लंबाई का सीधा सम्बन्ध हमारी यौन जिज्ञासा या Sexual Curiosity से होता है।
  • नकारात्मक सोच (Negative Thinking) आपके माता-पिटा से मिले किसी zene का परिणाम भी हो सकती है।
  • जिस तरह से लोग रेस्तरां के कर्मचारियों के साथ व्यवहार करते है उससे उनके व्यक्तित्व और चरित्र के बारे में बहुत कुछ पता चलता है।

Interesting Psychological Facts in Hindi

  • किसी अन्य भाषा में सोचने पर लिए गये निर्णय अधिक तर्कसंगत होते है।
  • अधिक हँसने वालों में दूसरों की तुलना में दर्द सहने की क्षमता अधिक होती है।
  • कॉमेडियन या मज़ाकिया किस्म के लोग अपने जीवन में दूसरों की तुलना में कहीं ज्यादा उदास होते है।
  • किसी को असामान्य तरीके से खाना खाते हुए देंखे, तो समझ जायें कि वो व्यक्ति किसी बात पर बहुत चिंतित है।
  • यदि कोई व्यक्ति छोटी-छोटी बात पर रो देता है, तो इसका मतलब है कि वह एक नरम दिल व्यक्ति है।
  • “तुम अब पहले जैसे नहीं रहे, बदल गए हो” कोई आपसे ये कहे, तो इसका मतलब है कि आपमें 95% वह चीज़ें बदल गई है, जो उस व्यक्ति को पसंद थी। बाकी आपमें कुछ नहीं बदला है।
  • ईमानदार होने से अधिक दोस्त तो नहीं बनते, लेकिन जो बनते है वे पक्के दोस्त होते है।
  • लगभग 90% लोग अपने पत्र या मैसेज में वे बातें लिखते है, जो वे कह नहीं पाते।
  • स्मार्ट लोग अक्सर खुद को कम आंकते है और अज्ञानी लोग सोचते है कि वे उत्कृष्ट है।
  • समूह में बात कर रहे 80% व्यक्ति शिकायतें कर रहे होते है।
  • मानव व्यवहार संबंधी अध्ययनों से पता चला है कि अपना मोबाइल खो देने वाले व्यक्ति को ठीक वैसी घबराहट महसूस होती है, जो मौत के नज़दीक होने पर होती है।
  • आज के दौर में तनाव का स्तर (Stress Level) कितना बढ़ गया है, इसका अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि हाईस्कूल के बच्चों में बेचैनी का स्तर उतना ही है, जितना 1950 के दशक के आरंभ में औसत मनोरोग रोगियों में हुआ करता था।
  • रात को सोने के पहले आप जिस किसी के बारे में सोच रहे होते है, वह या तो आपकी ख़ुशी का कारण होता है या फिर दुःख का।
  • लंबे समय तक अकेले रहना आपकी सेहत के लिए उतना ही बुरा है, जितना एक दिन में 15 सिगरेट पीना।
  • अपने सबसे अच्छे दोस्त से शादी करने से तलाक का जोखिम 70% तक कम हो जाता है और उस शादी के जीवन भर चलने की संभावना बढ़ जाती है।
  • बुद्धिमान व्यक्ति औसत व्यक्ति की तुलना में कम दोस्त बनाते है। व्यक्ति जितना होशियार होता है, वह उतना ही चयनात्मक होता है।
  • झूठ बोलने में माहिर लोग झूठ पकड़ने में भी माहिर होते है। उनके सामने झूठ बोलते समय सावधान रहें।
  • कोई व्यक्ति आपसे इसलिए जलता है, क्योंकि वह आपके जैसा बनना चाहता था, लेकिन बन नहीं पाया।
  • यदि आपका कोई दोस्त, रिश्तेदार या करीबी आपसे आकर ये कहे कि तुमसे कुछ पूछना है, तो उस पल अपने द्वारा हाल ही में किये गए सारे बुरे काम याद आ जाते है।
  • यदि आपसे कोई पेन मांगे, तो उसे बिना ढक्कन के पेन दीजिये। क्योंकि ज्यादातर लोग बिना ढक्कन की पेन अपनी जेब में नहीं डालते। इस तरह आपको अपनी पेन वापस मिलने की गुंजाइश ज्यादा रहेगी।
  • यदि आपका दोस्त या साथी आपके सामने जताता है कि वह आपकी कोई परवाह नहीं करता, तो इसका मतलब है कि या तो वह सच में आपकी परवाह नहीं करता या वह सबसे ज्यादा आपकी ही परवाह करता है।
  • एक अध्ययन में पाया गया कि पानी के पास रहने से हम अधिक शांत, ख़ुश और रचनात्मक बन सकते है।
  • एक शोध में पाया गया है कि हमारी स्मृति (memory) में इतनी आसानी से हेरफेर किया जा सकता है कि केवल 3 घंटों में हम आश्वस्त हो सकते है कि हमने अपनी किशोरावस्था में कोई अपराध किया था।
  • अरचनात्मक क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों की तुलना में लेखकों के बाइपोलर डिसऑर्डर (Bipolar Disorder) से पीड़ित होने की संभावना 121% अधिक होती है।
  • ट्रूमैन सिंड्रोम (Truman Syndrome) एक मनोवैज्ञानिक विकार है जिसमें रोगियों को लगता है कि वे किसी रियलिटी टीवी शो में रह रहे है।
  • पेरिस सिंड्रोम (Paris Syndrome) मुख्यतः जापानियों में होने वाला एक मनोवैज्ञानिक विकार है, जिसमें उन्हें लगता है कि पेरिस शहर वैसा नहीं है, जैसा उन्होंने सोचा था।
  • “Wrap rage” या “package rage” वह क्रोध और हताशा होती है, जब आप कोई पैकेज खोल नहीं पाते।
  • “High place phenomenon” ऊँचे स्थान जैसे पुल आदि से कूद जाने की उत्कंठा होती है।
  • दुनिया के 95% लोग जब भी नई पेन ख़रीदते है, तो सबसे पहले उससे अपना नाम लिखते है।
  • अपने भीतर के विचारों को कागज पर लिख लेने से तनाव कुछ कम हो जाता है और मूड पहले से बेहतर हो जाता है।

Information About Psychological in Hindi

  • वैज्ञानिकों के अनुसार, मस्तिष्क रिजेक्शन को शारीरिक दर्द जैसा ही महसूस करता है।
  • 2018 के एक मनोविज्ञान के अध्ययन में पाया गया है कि जो करोड़पति अपनी संपत्ति स्वयं अर्जित करते है, वे उन करोड़पतियों की तुलना में अधिक ख़ुश रहते है, जिन्हें उनकी संपत्ति विरासत में मिल होती है।
  • एक शोध से पता चला है कि सिर्फ प्लान ‘बी’ के बारे में सोचने भर से यह संभावना कम हो सकती है कि आप प्लान ‘ए’ पूरा करेंगे।
  • दुनिया के अधिकांश ड्राइवरों को लगता है कि वे दूसरे ड्राइवरों से बेहतर है।
  • शोधकर्ताओं ने पाया है कि आशावाद (optimism) एक सिखाने योग्य कौशल है। इसे आप ख़ुद को भी सिखा सकते है।
  • हमारी फैशन और ड्रेसिंग की समझ का सीधा संबंध हमारे मस्तिष्क से है। जब हम अच्छे कपड़े पहनते है, तो हमारा आत्मविश्वास बढ़ता है।
  • कई शोधों के अनुसार, ‘मई ’के महीने में पैदा होने वाले बच्चे अन्य महीनों में पैदा हुए बच्चों की तुलना में वजन में भारी होते है।
  • पैसा एक व्यक्ति को खुशी दे सकता है लेकिन केवल एक निश्चित सीमा तक। अध्ययन बताते है कि जब हमारी आय एक निश्चित बिंदु तक बढ़ जाती है, तो हम खुश महसूस करते है। उस बिंदु के बाद पैसा उतना मायने नहीं रखता।
  • यदि कोई व्यक्ति किसी के बारे में बहुत अधिक बातें करता है, फिर चाहे वो सकारात्मक हो या नकारात्मक, तो इसका मतलब यह है कि वह उस व्यक्ति से अत्यधिक प्रभावित है।
  • आपको “ना” बोलना आना चाहिए। यदि आप हर समय किसी के काम के लिए “हाँ” कहेंगे, तो वह इंसान आपकी उतनी इज्ज़त नहीं करेगा। लोग उनकी अधिक इज्ज़त करते है, जिनकी कुछ सीमायें होती है।
  • यदि किसी व्यक्ति को कोई काम करने से मना किया जाये, तो वो व्यक्ति सबसे पहले उसी काम को करने के बारे में ज़रूर सोचता है।
  • जो जितना ज्यादा सोता है, वह उतना ही ज्यादा उदास रहता है।
  • जो जितने ज्यादा ठंडे कमरे में सोता है, उसके उतने ही ज्यादा डरावने सपने आने की संभावना बढ़ जाती है।
  • ज्यादा तकिये लेकर सोने वाला व्यक्ति कहीं न कहीं ख़ुद को बहुत अकेला महसूस कर रहा होता है।
  • दुनिया के 85% लोग सोने के पहले प्लान्स के बारे सोचते है, जो वे अपनी ज़िंदगी में करना चाहते है।
  • एक अध्ययन अनुसार लगभग 72% लोगों के दिमाग में रचनात्मक विचार नहाते समय आते है।
  • सूर्य के प्रकाश में अधिम समय बिताने वाले लोग तनाव या अवसाद के शिकार कम होते है।
  • अपनी बातों की तरफ़ लोगों का ध्यान खींचने का सबसे अच्छा तरीका ये है कि अपनी बात की शुरुवात कुछ इस तरह से की जाये : “वैसे मैं ये बताना तो नहीं चाहता था, लेकिन….”
  • यदि आप किसी से बात कर रहे हों और वह इंसान अपना सिर नीचे झुकाए आपकी बात सुन रहा है, तो समझ जायें कि उसे आपकी बातों में कोई रूचि नहीं है। वह तो इसलिए चुपचाप सब सुन रहा है कि कहीं आपको बुरा न लग जाये।
  • माफ़ी मांगने का मतलब यह कतई नहीं है कि आप गलत है और दूसरा सही। इसका मतलब यह है कि आपको अपनी “ईगो” से ज्यादा सामने वाले व्यक्ति से संबंध की परवाह है।
  • कई बार कोई व्यक्ति किसी बात का जवाब इसलिए नहीं देता क्योंकि उसे लगता है कि सामने वाला उसे समझने के लायक नहीं है।
  • लोग अच्छी बातों की तुलना में बुरी बातों पर तुरंत विश्वास कर लेते है। किसी के बारे में अच्छी बात सुनकर लोग एक बार उस व्यक्ति से उस बारे में पूछने ज़रूर जाते है। लेकिन बुरी बातों पर तुरंत विश्वास कर लेते है।
  • इसी तरह लोग सच्ची बातों की तुलना में अफ़वाह पर फ़ौरन यकीन कर लेते है।
  • बात करते समय यदि आप किसी को अपना बैग देते है, तो सामने वाला व्यक्ति बिना कुछ सोचे ही आपका बैग अपने हाथ में ले लेता है।
  • यदि कोई व्यक्ति आपके सामने किसी की चुगली करता है, तो समझ जायें कि वह कहीं और भी आपकी चुगली अवश्य करता है।
  • जब लोग किसी चर्चा या वार्तालाप को छोड़ना चाहते है, तो वे बार-बार अपने पैरों को आगे-पीछे करते है, या अपने पैरों को चारों ओर घुमाना शुरू करते है।
  • जब आप किसी को पूरे दिल से पसंद करते है, तो उसके सामने झूठ बोलना लगभग असंभव है।
  • जब हम बहुत ज्यादा सोते है तो हम ज्यादा सोने लगते है।
  • जब हम लगातार नकारात्मक बातें सोचते रहते है, तो हमारा शरीर बीमार जैसा महसूस करने लगता है।
  • चॉकलेट खाने की लत और ऑनलाइन शॉपिंग करने की लत स्मोकिंग, ड्रग्स और सेक्स की लत से भी खतरनाक होती है।
  • किसी से बात करते समय उसका नाम लेने पर वह व्यक्ति आपको और ज्यादा पसंद करने लगता है।
  • जब आप किसी प्रियजन का हाथ पकड़ते है, तो आपको दर्द कम महसूस होता है और आपकी चिंता कम हो जाती है।

Facts About Psychological in Hindi

  • हमारी मनोदशा हमारे बात करने के तरीके को प्रभावित नहीं करती। लेकिन जिस तरह से हम बात करते है, वह हमारी मनोदशा को प्रभावित करता है।
  • कपड़ों का असर मूड पर भी होता है। अच्छे कपड़े पहनने पर मूड अच्छा रहता है।
  • एक शोध अनुसार लक्जरी ब्रांडों का सेल्समेन जितना रुखा होता है, बिक्री उतनी अधिक होती है।
  • सफ़र करने से मस्तिष्क का स्वास्थ्य अच्छा रहता है। इसलिए अधिक सफ़र करने वालों में दिल का दौरा पड़ने की संभावना और अवसाद का खतरा कम होता है।
  • बेतुकी बातों का व्यंग्यात्मक उत्तर देने वाले व्यक्ति का दिमाग अधिक स्वस्थ होता है।
  • शोध में पाया गया है कि कोई महिला किसी बात को औसतन 47 घंटे और 15 मिनट तक ही गुप्त रख सकती है।
  • एक अध्ययन के अनुसार अपने बजाय दूसरों पर पैसा खर्च करने से ज्यादा ख़ुशी मिलती है।
  • विचारों में नकारात्मकतता अधिक होने पर शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता घट जाती है।
  • जो लोग अधिक बार कसम खाते है, वे उन लोगों की तुलना में अधिक ईमानदार होते है, जो ऐसा नहीं करते।
  • जो लोग दो भाषाएं बोलते है, वे अनजाने में ही उस वक़्त अपना व्यक्तित्व बदल लेते है, जब वे एक भाषा से दूसरी भाषा में स्विच करते है।
  • यकीन मानिये प्यार में पड़ने के लिए मात्र 4 मिनट ही पर्याप्त होते है।
  • पहली डेट पर जाने के लिए बुधवार का दिन बेहतरीन माना जाता है।
  • किसी के लिए आप अपनी फीलिंग्स जितना छुपाते है, वह उतनी ज्यादा बढ़ती जाती है।
  • मानव स्वभाव यही है कि वे उन लोगों को नजरअंदाज करने लगते है, जो उन्हें पसंद करते है और उन पर अधिक ध्यान देते है, जो उनकी उपेक्षा करते है।
  • ख़ुश गवार लोगों के साथ रहने से ख़ुशी मिलती है। इसलिए लोग ख़ुश गवार लोगों के साथ रहना पसंद करते है।
  • दुनिया के 60% लोग अपनी नकारात्मक भावना से छुटकारा पाने के लिए संगीत सुनते है।
  • आपका पसंदीदा गीत इसलिए आपका पसंदीदा होता है क्योंकि आप उससे कहीं न कहीं अपने जीवन की किसी भावनात्मक घटना के साथ जुड़ा हुआ पाते है।
  • खुशी, क्रोध, उदासी, भय, घृणा और आश्चर्य ये 6 भावनाएं सार्वभौमिक रूप से पूरे विश्व में व्यक्त की जाती है।

Amazing Psychological Facts in Hindi

  • लोग कभी इस बात को याद नहीं रखते कि आपने उनसे क्या कहा था वे उस बात को याद रखते है कि आपने उन्हें कैसा महसूस कराया था।
  • कभी गौर फरमाइगा कि ख़ुशी का पहला आँसू दाहिनी आँख से और दुःख का पहला आँसू बाई आँख से निकलता है।
  • यदि आप अपने पसंदीदा गीत का अलार्म बना लें, तो कुछ दिनों में आप उसे नापसंद करने लगेंगे।
  • जिस तरह का संगीत आप सुनते है, वह आपके दुनिया को देखने के नज़रिये को प्रभावित करता है।
  • दुनिया के 68% लोग फैंटम वाइब्रेशन सिंड्रोम (Phantom Vibration Syndrome) के शिकार है। ‘फैंटम वाइब्रेशन सिंड्रोम’ में ऐसा महसूस होता है कि हमारा मोबाइल फोन वाईब्रेट हो रहा है, जबकि वास्तव में ऐसा नहीं हो रहा होता।
  • अगर लड़कियाँ आपको पसंद करती है तो वे आपको उन्हें घूरते हुए देखने पर भी पसंद करती है।
  • किसी के साथ लगातार ज्यादा देर तक बात करने से उसके साथ प्यार में पड़ने की संभावना बढ़ जाती है।
  • जब हम किसी वस्तु को अपने अधिकार के तौर पर देखते है तो ज्यादा संभावना है कि हम उसे खरीद लेते है।
  • जिन महिलाओं के दोस्तों में पुरुषों की संख्या ज्यादा होती है वो ज्यादा कूल और अच्छे मूड में रहती है।
  • यदि आप बार बार अपने लक्ष्यों के बारे में बात करते है, तो इससे उस लक्ष्य के सफल होने की संभावना कम हो जाती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आप प्रेरणा खो देते है।
  • कभी-कभी हम किसी काम को करने से ज्यादा उसके बारे में सोचकर ज्यादा खुश होते है।
  • जैसे ही लोगों को पॉवर या शक्ति हाथ में आती है वो अन्य लोगों को नज़रअंदाज़ करने लगते है। ताकत किसी भी इंसान को दूसरों की परवाह न करना सिखा देती है। 
  • किसी जोक पर हंसने के लिए हमारे दिमाग को पांच अलग-अलग हिस्सों में काम करना पड़ता है।
  • नास्तिक लोग अधिक सेक्स करते है। वो ऐसा जुनून या आकर्षण की वजह से नहीं करते बल्कि अपना वर्चस्व दिखाने के लिए ऐसा करते है।
  • हमारा मस्तिष्क एक उबाऊ (Boring) काम को पल भर में मजेदार काम में बदल देता है, अगर हम सच में उस काम को करना चाहते है।
  • लगभग 68% लोग Phantom Vibration Syndrome से ग्रसित है। इसमें हमको अपना फ़ोन वाईबरेट करता हुआ महसूस होता है जबकि फ़ोन असल में वाईबरेट नहीं कर रहा होता है।
  • हमारा मस्तिष्क उन कामों को महत्वपूर्ण नहीं मानता है जिनको पूरा करने के लिए अभी काफी समय बचा हुआ है। जिन कामों की समय-सीमा एक दम सिर के ऊपर होती है हमारा दिमाग उन कामों को ही प्रायोरिटी देता है।
  • किसी के गले लगने पर हम तनाव मुक्त और तरो-ताजा महसूस करते है। किसी व्यक्ति को 20 सेकंड्स से ज्यादा देर तक गले लगने पर हम उस व्यक्ति पर ज्यादा भरोसा करने लगते है।
  • आप कितनी भी कोशिश करने के बाद यह याद नहीं रख सकते कि आपका सपना कैसे शुरू हुआ था।
  • हमारा दिमाग सपनों में अज्ञात चेहरों को नहीं देख सकता है। हमारे सपनों में देखे जाने वाले सभी चेहरों को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर हमने अनुभव किया होता है।
  • हम कभी भी अपने दिमाग को 100% लापरवाह नहीं बना सकते। दिमाग का कोई न कोई हिस्सा हमेशा अपने प्रति सतर्क रहता है।
  • पुरुष महिलाओं की तुलना में ज्यादा मजाकिया नहीं होते है। पुरुष केवल अधिक चुटकुले बनाते है, वे इस बात की परवाह नहीं करते है कि किसी को चुटकुले पसंद है या नहीं।
  • यदि दोस्ती 7 साल से अधिक की है, तो इसके जीवन भर चलने की बहुत अधिक संभावनाएं है।
  • 70% समय हमारा मस्तिष्क केवल पुरानी यादों के सहारे एक बढ़िया माहौल बनाने की कोशिश करता रहता है।
  • कुछ लोगों को सिर्फ 4 मिनट में प्यार हो जाता है। ये बात साइकोलॉजिकल तौर पर सिद्ध हो चुकी है।
  • जब लोग यह कहते है कि ‘आप बदल गए हो’ तो उनका मतलब होता है कि अप अब उसकी जरूरत के काम नहीं करते हो। बाकी आपमें कुछ और नहीं बदला है।
  • शारीरिक रूप से थक जाने पर लोग अधिक ईमानदार हो जाते है। यही कारण है कि देर रात बातचीत के दौरान लोग कई बातों को कबूल कर लेते है।

Psychological Facts in Hindi

  • व्यस्त रहने पर लोग अधिक ख़ुश रहते है, क्योंकि व्यस्तता उन्हें जीवन की नकारात्मक चीजों के बारे में सोचने से रोकती है।
  • छोटी-छोटी बातों पर चिड़चिड़ा जाने या नाराज़ हो जाने वाले व्यक्ति से सामना हो, तो समझ जायें कि उसे आपके प्यार और साथ की ज़रूरत है।
  • अकेलापन तब महसूस नहीं होता, जब आप अकेले होते हो। बल्कि तब महसूस होता है, जब कोई आपकी परवाह (care) नहीं करता।
  • जिन व्यक्तियों में आत्म-विश्वास की कमी होती है, वे दूसरों की कमियाँ निकालने में माहिर होते है।
  • जब लोग ग्रुप में बैठकर किसी का मज़ाक उड़ा रहे हो, तब वे उस इंसान की ओर ज्यादा देखते है, जिन्हें वे अपने दिल के करीब मानते है।
  • भीड़ में अपनी जेब में हाथ डाल लेने वाला व्यक्ति शर्मीले स्वभाव का होता है।
  • यदि कोई समय निकालकर आपका काम करने में मदद कर रहा हो, तो उसे “जल्दी करो” कभी ना कहें।
  • जो व्यक्ति जितना होशियार होता है, वह उतनी ही तेजी से सोचता है और उसकी लिखावट उतनी ही बेढंगी होती है।
  • गुड मॉर्निंग और गुड नाइट टेक्स्ट मेसेज दिमाग के उस हिस्से को सक्रिय करते है, जो ख़ुशी के लिए ज़िम्मेदार होता है।
  • हम जितने ख़ुश रहेंगे, हमें उतनी ही कम नींद की आवश्यकता होगी।
  • एक सर्वेक्षण में पाया गया है कि 82% लोग किसी आकर्षक व्यक्ति के पास जाने में तब अधिक आत्मविश्वास महसूस करते है, जब उस व्यक्ति के साथ उसका कुत्ता होता है।
  • जब कोई उन चीजों के बारे में बोलता है, जिसमें वह वास्तव में रुचि रखता है, तो लोग उसे अधिक आकर्षक पाते है।
  • 16 से 28 वर्ष की उम्र में हुई दोस्ती के अधिक मजबूत होने और अधिक लंबे समय तक चलने की संभावना होती है।
  • रोने से आप बेहतर महसूस करते है, आपका तनाव कम होता है और साथ ही इससे शरीर का स्वास्थ्य बेहतर होता है।
  • “इरोटोमैनिया” (Erotomania) एक ऐसा मनोवैज्ञानिक विकार है जिसमें प्रभावित लोगों को महसूस होता है कि कोई मशहूर व्यक्ति उनके प्यार में पड़ा हुआ है।
  • शादीशुदा लोगों को कुंवारे लोग अधिक ख़ुश लगते है, जबकि कुंवारे लोगों को शादीशुदा।
  • कम बोलने वाले और सिर्फ़ मुद्दे की बात बोलने वाले व्यक्ति अपने राज़ छुपाने में माहिर होते है।
  • यदि आपको लगता है कि आपको एक समय में दो लोगों से प्यार है और परिस्थिति ऐसी है कि उनमें से एक को आपको छोड़ना है, तो पहले वाले को छोड़िये। क्योंकि यदि आप उसे सच में प्यार करते, तो दूसरा आपकी ज़िंदगी में आता ही नहीं।
  • अनुसंधान से पता चलता है कि जब हम संपत्ति खरीदने के बजाय अनुभवों (जैसे यात्रा, सिनेमा, खेल, आदि) पर पैसा खर्च करते है तो हम अधिक संतुष्ट होते है। अनुभवों पर पैसा खर्च करने से हम अधिक मिलनसार और तनाव-मुक्त महसूस करते है।
  • जिन लोगों को बहुत तेज गुस्सा आता है, वे उस समय गहरे तनाव में होते है और उन्हें तुरंत प्यार और अपनेपन की जरूरत होती है ।
  • एक अमेरिकी अध्ययन के अनुसार, लगभग दो सीरियल किलर नवंबर में किसी भी अन्य महीने की तुलना में अधिक पैदा होते है।
  • जब वे पूरे आत्मविश्वास और सच्चाई के साथ बोलते है तो लोग अधिक आकर्षक लगते है।
  • अपने आप को काम में व्यस्त रखने से हम खुश होने लगते है। इसका कारण है क्योंकि जब हम व्यस्त होते है, तो हमारा मस्तिष्क हमें अपने जीवन में नकारात्मक चीजों के बारे में सोचने से रोकता है।
  • रेस्त्रां अपनी ब्रांडिंग में लाल, नारंगी और पीले रंगों का उपयोग करते है क्योंकि ये रंग हमें भूख का एहसास कराते है।
  • जब हमें अपनी किसी बात पर पूरा भरोसा नहीं होता है तो हम उस बात का बचाव करने लग जाते है।
  • अपने दिमाग या मन को एक जगह पर स्थिर या शांत रखना बहुत कठिन है। हमारा दिमाग 30% समय भटकता ही रहता है।
  • जिन लोगों की humor या व्यंग्य को समझने की क्षमता अच्छी होती है। वे लोगों के दिमाग को पढ़ने में भी माहिर होते है।
दोस्तों उम्मीद है कि आपको हमारी यह पोस्ट Information & 190 Facts About Psychological in Hindi पोस्ट पसंद आयी होगी। अगर आपको हमरी यह पोस्ट पसंद आयी है तो आप इससे अपने Friends के साथ शेयर जरूर करे और हमें Subscribe कर ले। ता जो आपको हमारी Latest पोस्ट के Updates मिलते रहे। दोस्तों अगर आपको हमारी यह साइट FactsCrush.Com पसंद आयी है तो आप इसे bookmark भी कर ले।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ